अधिकतर महिलायें तीन बार में शोपिंग करती हैं।

1.
खोपड़ी टुट गई भाई सोचते सोचते, मीरा कुमार ब्राह्मण से शादी करके दलित ही रह गयी।
इंदिरा गांधी फिरोज से शादी करके हिन्दू हो गयी !

2.

हिरन मारना तो आज ही नही पौराणिक युग से जी का जंजाल बना है।

राजा दशरथ ने हिरन समझ श्रवण कुमार के पिता को मार दिया तो श्राप लगा।

श्रीराम हिरन मारने गए तो पत्नी खो दिए।

श्रीकृष्ण जी को भी बहेलिए ने हिरन समझ तीर मार दिये।

ये सब देख के सबक लेना चाहिए था ना “सल्लू भाई”।

3.
पापा : ये कमीना हमारी नाक कटाएगा।

अप्पू : मेरा मूड खराब मत करो।

पापा : कमीने, वो वर्मा जी की लड़की को देख !

अप्पू : कहाँ है ? किधर ?
मुझसे तो बोली कि बाहर जा रही हूँ।

फिर क्या था, दे लात दे घूंसा…!

4.
माँ (डॉक्टर से) : मेरे बेटे को सुबह से बहुत खांसी हो गई है।

लेडीज डॉक्टर : बेटा लम्बी सांस लो !

बेटा : ओ.के मैडम।

लेडीज डॉक्टर : कुछ महसूस हुआ ?

बेटा (शरारती नजर से) :
आपका डीओ बहुत ही करारा है मैडम।

डॉक्टर बेहोश…

5.
अधिकतर महिलायें तीन बार में शोपिंग करती हैं।

पहली बार देखने जायेंगी !
दूसरी बार लेने जायेंगी !
और तीसरी बार बदलने जायेंगी !

लेकिन एक बात है, गोलगप्पे तीनों बार

खायेंगी।