कैसे इस दिल से तुझे भुला दें, हम तेरे नाम की लय पर तो धड़कनें चलती हैं..!!

कैसे इस दिल से तुझे भुला दें हम
तेरे नाम की लय पर तो धड़कनें चलती हैं..!!
———————–
वजह पूछ मत तू मेरे रोने कि
तेरी मुस्कराहट पे ख़ुशी के दो आंसू गिर गए.
———————–
कितना खुशनुमा होगा वो मेरे इँतज़ार का मंजर भी…,
जब ठुकराने वाले
मुझे फिर से पाने के लिये आँसु बहायेंगे…!!!
———————–
मत इन्तेजार करवाओ हमें इतना ,
की वक्त के फैसले पर अफ़सोस हो जाये
क्या पता कल तुम लौट कर आओ
और हम सदा के लिए खमोश हो जाये !!!
———————–
हमने पूछा कैसे हो ,जवाब ना आया
इस बेरुखी से हमारा दिल भर आया
सोचा गलती किसकी है ,तो ये ख्याल आया
शायद उन्हें ये नाचीज पसंद ना आया !!!
———————–