कोई फर्क नहीं पड़ता कि, आपकी त्वचा कितनी गोरी और चमकदार है ।

1.
आरक्षण से बने डाक्टर ने खुद के बारे मे कहा !

हमारी शख्शियत का अंदाज़ा तुम क्या लगाओगे ग़ालिब,,

जब गुज़रते है क़ब्रिस्तान से
तो मुर्दे भी उठ के पूछ लेते हैं

“डाक्टर साहब,

अब तो बता दो मुझे तकलीफ क्या थी” !

2.

कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने “खूबसूरत” हैं ?

क्योंकि ‘लँगूर’ और ‘गोरिल्ला’ भी अपनी ओर लोगों का ध्यान आकर्षित कर लेते हैं।

3.
आप कितने भी अमीर क्यों ना हो और दर्जनों गाड़ियाँ आपके पास क्यों ना हो !

घर के बाथरूम तक आपको चल के ही जाना पड़ेगा।

4.
कोई फर्क नहीं पड़ता कि “तुम” नहीं हँसेंगे तो सभ्य कहलाओगे ?

क्यूंकि “तुम” पर हंसने के लिए दुनिया में सिद्धुओ की कमी नहीं है !

5.
कोई फर्क नहीं पड़ता कि, आपकी त्वचा कितनी गोरी और चमकदार है

अँधेरे में लालटेन की जरूरत परेगी ही परेगी !