पति : तुम्हारी ये रोज़ रोज़ की फरमाइशों से परेशान होकर आत्महत्या कर लूँगा मै !

1.
विवाहित पुरुषो के लिए जरूरी सलाह…
‘जिस दिन घर में काम वाली न आए, उस दिन अपनी बीवी से न उलझें, बाकि आपकी मर्ज़ी’..!

2.
इतनी नफरत भी ठीक नहीं होता साहब…,
एक आदमी ठंड से कांप रहा था,
मैं बोला “मफलर बाँध ले भाई” !
उसने मुस्कराकर बोला, “मैं कांग्रेस से हूँ” !

3.
कल्लू : जो आदमी हमेशा हँसता रहता है उसे कहते हैं “हसमुख” !
मल्लू : जिसका हँसना बिल्कुल बंद हो ?
कल्लू : उसको कहते है “हस्बैंड”

4.
पति : तुम्हारी ये रोज़ रोज़ की फरमाइशों से परेशान होकर आत्महत्या कर लूँगा मै !
पत्नी : आप भी न रुला के ही मानेगे, चलो अब एक अच्छी सी सफ़ेद साड़ी दिला दो बस, नहीं तो तेरहवीं पर क्या पहनूंगी !

5.
पत्नी : बताओ तुम्हे में कितनी अच्छी लगती हूँ..?
पति : बहुत ज्यादा..
पत्नी : फिर भी बताओ कितनी..?
पति : इतनी की दिल करता है, तेरे जैसे एक और ले आऊ..!