पार्क के किनारे एक लड़की को अकेला पाकर नाथू जी हाथ में फूल लिए उसका पीछा कर रहे थे।

1.
परीक्षा में रघु कॉपी पर फूल बना रहा था।

शिक्षक : ये फूल क्यों बना रहे हो ?

रघु : सर, यह फूल मेरी याद्दाश्त को समर्पित है, जो अभी-अभी गुजर गई।

2.
चम्पू को देखने गए घरवालों ने उनको बात करने के लिए अकेले बैठा दिया।

लड़की (डरते हुए) : भाई, आप कितने भाई-बहन हो ?

चम्पू : अभी तक तो 3 थे अब 4 हो गए।

3.
सोहन : कितना प्यार करती हो ?

स्वीटी : जितना तुम करते हो ?

सोहन : मतलब कि तुम भी मुझे धोखा दे रही हो ?

4.
पार्क के किनारे एक लड़की को अकेला पाकर नाथू जी हाथ में फूल लिए उसका पीछा कर रहे थे।

लड़की : तुम्हे पता है ! पीछे मेरी मां आ रही हैं !

नाथू जी : अरे, हम तो खानदानी आशिक है। तुम्हारी मां के पीछे मेरे पिताजी आ रहे है।

5.
सोनू : तू स्कूल क्यों नही जाता ?

मोनू : कई बार गया अंकल वो वापिस भगा देते है

सोनू : क्यों ?
मोनू : कहते है “भाग, तेरा क्या काम लड़कियों के स्कूल में”…!