पेहला जेबकतरा : अब में जेब काटने का धंधा छोड़ने वाला हूँ।

1.
पेहला जेबकतरा : अब में जेब काटने का धंधा छोड़ने वाला हूँ।
दूसरा जेबकतरा : ऐसा क्यों?
पहला जेबकतरा : क्या करू भाई, आजकल कोई मेरी ही जेब काट लेता हैं
“धंधे की लाचारी के कारण मैं किसी को ठीक से पहचान भी नहीं सकता”।

2.
एक बार ननकू मेला देखने गया….
वहा रात को किसी ने उसका कम्बल चुरा लिया।
घर लौटने पर उससे पूछा गया : क्यों भाई कैसा रहा मेला?
ननकू : अजी मेला-वेला कुछ नहीं, वहां तो लोग मेरा कम्बल चुराने के लिए इकठ्ठा हुए थे।

3.
हरियाणा के एक ताऊ मरणासन की कंडीशन में पहुँच गये !
घरवालो ने कहा : “ताऊ आख़री टेम आ लिया”… अब तो राम का नाम ले ले।
ताऊ बोल्या : इब नाम के लेणा..
15-20 मिनिट बाद आमना-सामना हो लेगा।

4.
मां : “बेटा, छुट्टियों पर घर आ रहे हो की नहीं ?
बेटा : “नहीं मां”, मुश्किल लग रहा है, ट्रेन में रिजर्वेशन नहीं हो पा रहा है।
माँ : बेटा, 30 साल का हो गया है और एक टिकट का रिजर्वेशन नहीं करवा पा रहा, पटेल साहब के लड़के (हार्दिक पटेल) को देख पूरी जाति की रिजर्वेशन के लिए अप्लाई कर दिया है।

5.
शिक्षक : ऐ बी सि सुनाओ…
सैतान टिंकू : ऐ बी सि …
शिक्षक : और सुनाओ…
सैतान टिंकू : और सब बढियां, आप सुनाओ।