बबली (सुबह सुबह बंटी से) : आधा सर दुःख रहा है !

1.
स्वीटी : क्या कर रहे हो ?
सोनू : मूंगफली खा रहा हूँ !
स्वीटी : अकेले अकेले,
सोनू : अब 10 रुपयें की मूंगफली में भण्डारा करू क्या…!

2.
बबली (सुबह सुबह बंटी से) : आधा सर दुःख रहा है !
बंटी (गलती से) : जितना है, उतना ही तो दुखेगा…
तब से बंटी का पूरा शरीर दुःख रहा हैं..!

3.
मोटू (पतलू से) : देव और पति देव में क्या फर्क है ?
पतलू : देव, सुख कर्ता दुःख हर्ता और पति देव, ऐसा कर्ता वैसा कर्ता…
मोटू : देवी और पत्नी देवी में क्या फर्क है ?
पतलू : देवी, दुर्गे दुर्घट भारी, तुजविन संसारी और पत्नी देवी, दुर्गे का रुप धारी, हर दिन कंकासी.

4.
कल्लू की बीबी : पता है, जब मैं छोटी थी तो छत पर से गिर गयी थी,
कल्लू : फिर तू बच गयी थी या मर गयी थी..?
कल्लू की बीबी : अब मुझे क्या पता मैं तब छोटी थी ना,
कल्लू : अरे हाँ, मैं भी कितना पागल हूँ!

5.
किट-किट की आवाज़ आ रही थी..!
वाइफ ( जागकर ) : “देखो जी, चूहे कपड़े कुतर रहे है”..?
हस्बैंड ( कापते हुए ) : “सारी रजाई तो तूने खीच ली, मेरे ही दाँत किटकिटा रहे हैं” !