महेश (थियेटर में फिल्म देखते समय) : अरे तुम यहां क्या कर रहे हो ?

1.
राजू (बाबुराव को छोटे बालों में देख कर) : अरे बाल कटवाए हैं, क्या ?
बाबुराव : पता नहीं यार। रात को सोया तो ठीक थे। सुबह उठकर देखा तो अंदर चले गए।

2.
महेश (थियेटर में फिल्म देखते समय) : अरे तुम यहां क्या कर रहे हो ?
सुरेश : तुझे नहीं पता ? मैं यहां टिकट ब्लैक करने आता हूं।

3.
मोटा आदमी (बस में बंकू के पैर पर पैर रख दिया) : अरे बेटा लगी तो नहीं ?
बंकू : नहीं अंकल बहुत मजा आया। एक बार और रखिए न।

4.
हर दिन कम से कम एक अजनबी व्यक्ति को देख के हंसें, ताकि वह अपनी सारी प्रॉब्लम भूलकर यह सोचने लगे की, “आखिर ये बेवकूफ था कौन” ?

5.
पुराने खेत के नई उमर की नई फसल…
जिस उम्र में हमारे दांत टूटे थे, आजकल के बच्चों के उस उम्र में दिल टूट जाते हैं।