शायर सेख घर मे पत्नी के साथ बैठा है,

1.
शिक्षक : दो में से दो गए कितने बचे ?
मोनू : समझ में नहीं आया मास्टर जी
शिक्षक : बेटा समझो तुम्हारे पास दो रोटी हे, तुमने वो दो रोटी खा ली बताओ तुम्हारे पास क्या बचा ?
मोनू : सब्जी…

2.
परम सत्य:
पढाई और “जिम” हमेशा
कल से “शुरू” होते है…!
और
सिगरेट और दारू
कल से “बंद”…

व्हाट्सअप यूनिवर्सिटी की खोज…

3.
शायर सेख घर मे पत्नी के साथ बैठा है,
तभी माशूका का मिसकॉल आता हैं…

शायर सेख का माशूका को शायरी में जवाब:

हवा की लहरें बनके मेरी गेट पे मत आना,
मै बंद कमरे में बवंडर संभाल के बैठा हूँ…

4.
ऐसे ना तुम मुझे देखो..

GST लगा दूंगा..

पैसे भी चुरा लुंगा तेरा…

टैक्स भी लगा दूंगा…

बोल : अरुण जेटली के
संगीत : मोदी जी

5.
चौधराइन ने चौधरी से कहा : “अब तू हुक्का मत पिया कर”…
चौधरी बोला : रै बावली… तन्नै के पता…!
इसमें तीन देवता निवास करैं सैं…
नीचे जल देवता,
बीच में पवन देव…
और ऊपर अग्नि देवता…

अब चौधरी हुक्का पीता है, और…
चौधराइन हाथ जोरे बैठी रहती है…