सबने चाहा कि उसे हम ना मिलें # shayari

1.सबने चाहा कि उसे हम ना मिलें

हमने चाहा उसे गम ना मिले

अगर खुशी मिलती है उसे हमसे जुदा होकर
तो दुआ है खुदा से कि उसे कभी हम ना मिलें।

2.बेहद जब होने लगती है जब मोहोब्बत

तो दर्द भी बेहद ही देती है और
उस दर्द की दवा भी हमे वो बेहद मोहोब्बत ही लगती है।