Emotional Shayari

इश्क़ का तेरी एक यही तो सिला हे,
याद तुझे करके मेरा दिल भी जला हे.
तेरी यादो को हम कैसे भुला दे,
सब कुछ हारकर एक यही तो मिला हे.

दगा देकर भी हंसते रहते हैं ऐसे चेहरों
के अब तो मौसम आए आजकल प्यार सरेआम बरसता है
हमारे पास धोखे खाकर कितने आए

लोग मिला करते हे ज़िंदगी मे दिल को दर्द देने के लिए,
वो भी आए थे दिल की कहानी सुनने के लिए,
वो हवाओ की तरह रुख़ बदलते रहे,
हम तक़दीर से लड़ते रहे जिनको पाने के लिए.

उनकी तस्वीर को सीने से लगा लेते हैं,
इश्स तरह जुदाई का घाम मिटा लेते हैं.
किसी तरह ज़िकार हो जाए उनका,
तो हंसस कर भीगी पलकें झुका लेतेहैं.

मिटा सके जो दर्द तेरा वो शब्द कहाँ से लाऊँ
चूका सकूं एहसान तेरा वो प्राण कहाँ से लाऊँ
खेद हुआ है आज मुझे लेख से क्या होने वाला
लिख सकूं मैं भाग्य तेरा वो हाथ कहाँ से लाऊँ
देखा जो हालत ये तेरा छलनी हुआ कलेजा मेरा…

हमने आंसु को बहोत संजोया के तन्हाई मे आया करो,
भारी महफ़िल मे हमारा मज़ाक ना उड़ाया करो,
इस बात पर आंसु ने तड़प कर कहा,
महफ़िल मे आपको तन्हा आप को पाते हे,
इस लिए हम चले आते हे.

जब भी करीब आता हूँ बताने के किये,
जिंदगी दूर रखती हैं सताने के लिये!
महफ़िलों की शान न समझना मुझे,
मैं तो अक्सर हँसता हूँ गम छुपाने के लिये!

जिनकी हसरत थी उनका प्यार ना मिला,
जिनका बरसो इंतेज़ार किया उनका साथ ना मिला,
अजीब खेल होते हे ये मोहब्बत के,
किसी को हम ना मिले और कोई हमे ना मिला.

इश्क़ का तेरी एक यही तो सिला हे,
याद तुझे करके मेरा दिल भी जला हे.
तेरी यादो को हम कैसे भुला दे,
सब कुछ हारकर एक यही तो मिला हे.

किसी के दिल का दर्द किसने देखा है,
देखा है, तो सिर्फ चेहरा देखा है,
दर्द तो तन्हाई मे होता है,
लेकिन तन्हाइयो मे लोगों ने हमे हँसते हुए देखा है!