Emotional Shayari

दर्द से अब हम खेलना सीख गए,
हम बेवफाई के साथ जीना सीख गए,
क्या बताएं किस कदर दिल टूटा है मेरा,
मौत से पहले, कफ़न ओढ़ कर सोना सीख गए।

दिल को उसकी हसरत से खफ्फा कैसे करू,
अपने रब को भूल जाने की ख़ाता कैसे करू,
लहू बनकर राग राग मे बस गया है वो लहू को इस जिस्म से ज़ुदा कैसे करू.