Romantic Shayari

औरों की तरेह वो बक बक नहीं करती
अखियों से बहुत कुछ कह जाती है
जब भी याद आ जाए उसकी कभी,
हमे जानते हैं दिल को कैसे समझते है,

मेरे होठों की हसी मेरी कहानी तू है
लबों पे जो रह गई प्रेम निशानी तू है

तुझसे एक वादा था मेरा सदा मुस्कराता रहूँगा
मैं इसलिए दिल तो मेरा रो रा है पर चेहरा सदा मुस्कराया है
कभी आकर देख मेरा आशियाना कैसे तेरी यादों से सजाया है
तेरे संग बिताए हर पल हर लम्हे को कैसे मैने सजाया है

मेरी धड़कनो मे छुपी एक आवाज़ है,
तेरे लिए हर एक नया गीत पर नया साज़ है,
अब तो बस ये हाल है,जब भी सोचा तेरा ख्याल है,
जब भी देखता हूँ आईना नज़र आता तेरा अंदाज है.

आप मुझसे अब दूर कहाँ जाएँगे,
हर धड़कन मे दिल की आप मुझे पाएँगे,
सोचेंगे जब भी हमारे बारे मे,
हमे खुद के करीब पाएँगे,
ख्याल छुएँगे जब भी हमारे आपको तन्हैईओं मे,
आप अपने लबो को मुस्कुराता पाएगे

पहली बारिश का नशा ही कुछ अलग होता हैं,
पलको को छूटे ही सीधा दिल पे असर होता हैं,
महका महका सावन आज इस दिल को बहका रहा हैं,
गुमसूँ सी नज़रो को आज ये प्यार करना सीखा रहा हैं.

बनके कोई ख्वाब मैं तुम्हारे आँखों मे आता जाता हूँ,
होके तुम्हारे आँखों से दिल से गुज़र जाता हूँ,
तुम समझ पाती नही की कौन था,कहाँ से आया था,
बस ख्वाबों मे तुम्हारे आके तुम्हे गुदगुदा के जाता हूँ.

मेरे ख्वाबो का यार ऐसा मिला,
की ज़िंदगी से ना रहा कोई भी गीला,
मोहब्बत का एक फरिश्ता ऐसा मिला खुदा तो नही पर खुदा सा मिला

बागों मे बहार फूलों से ही आती है
फूलों मे मिठास सहेद से ही आती है
पर आती है खुशबू तब ही जब उसे महसूस करने की चाहत होती है

कुछ ख़याल ऐसे ही मेरे दिल मे आते जाते हैं
कुछ उनकी यादों मे डूबके हम मुस्कुराते हैं ,
कभी खो जाते हैं हम उनकी तस्वीर मे
और कभी उन्ही के नाम से खुशी के गीत गाते हैं